Uncategorized Archive

हालत ये है

हालत ये है कि बारिश अब रुकनी चाहिये।

काले बादलों से नयी रौशनी अब निकलनी चाहिये।

बारिश पर शायरी करना मेरा मकसद नहीं, पर

कोने में लटक रही चड्डी भी तो सुखनी चाहिये…